बेरमो में प्रज्ञा केंद्र द्वारा मनमानी वसूली, आवासीय प्रमाण पत्र के लिए मांगा 700 रूपये

by admin on Fri, 01/21/2022 - 11:36

झारखंड में अपना सरकारी दस्‍तावेज निकालने के लिए नागरिकों को निजी संचालकों के प्रज्ञा केंद्रों तक जाना मजबूरी है। ऐसे में प्रज्ञा केंद्रों की मनमानी बढ़ती जा रही है। हालिया मामला बेरमो का है। यहां एक प्रज्ञा केंद्र ने जैसे लूट मचा रखी है। नागरिकों को अपने जरूरी सरकारी निबटारे के लिए आवासीय प्रमाण पत्र लेना पड़ता है। इसके लिए एक ही उपाय है प्रज्ञा केंद्रों पर जाइये और वहां के संचालकों की मनमर्जी पर पैसे चुकाइये। बेरमो के एक प्रज्ञा केंद्र पर आवासीय प्रमाण पत्र के लिए सात सौ रूपये वसूला जा रहा था। जबकि सरकारी दर मात्र 30 रूपये निर्धारित है। लोगों ने स्‍थानीय सीओ से शिकायत की। जांच के लिए स्‍वयं सीओ ने उक्‍त प्रज्ञा केंद्र के यहां फोन किया और प्रमाण पत्र बनाने का दर पूछा तो बताया गया कि सात सौ रूपये लगेंगे। सीओ एक आम नागरिक की तरह बात कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि सरकारी दर तो मात्र 30 रूपये है। इसपर संचालक ने कहा कि हमारे कार्यालय आइये तब बात करेंगे। सीओ स्‍वयं एक आम आदमी की तरह उस प्रज्ञा केंद्र पर पहुंचे और आवासीय प्रमाण पत्र बनाने का शुल्‍क पूछा। वहां भी उन्‍हें सात सौ रूपये बताया गया। जब सीओ ने अपने वास्‍तविक हैसियत बतायी तो संचालक के होश पाख्‍ता उड़ गए। उसके बाद सीओ ने इस प्रज्ञा केंद्र का निबंधन रद्द करने के लिए अपने वरीय अधिकारियों को लिखा है। देखें इसका कितना असर होता है।

Sections
SEO Title
Arbitrary charges by Pragya Kendra in Bermo, Rs 700 sought for residential certificate